यह मंदिर भगवान शिव को समर्पित है और इसका इतिहास 5वीं शताब्दी का बताया जाता है।यहाँ स्वयंभू शिवलिंग है, जो कि धरती से निकला हुआ माना जाता है।यह मंदिर हिमाचल प्रदेश के सबसे प्रसिद्ध मंदिरों में से एक है और हर साल हजारों श्रद्धालु यहां दर्शन के लिए आते हैं। भगवान शिव हिमाचल प्रदेश के विभिन्न भागों में अलग-अलग रूपों में विद्यमान है। ऐसा ही स्वयं-भू प्रकट शिवलिंग का रूप है बाबा भूतनाथ का। मंडी शहर के बीचों बीच शिखारा शैली में बने बाबा के मंदिर में हर रोज भक्तों की भीड़ रहती है।

Baba Bhootnath:बाबा भूतनाथ मंदिर, मंडी, हिमाचल प्रदेश

भगवान शिव हिमाचल प्रदेश के विभिन्न भागों में अलग-अलग रूपों में विद्यमान है। ऐसा ही स्वयं-भू प्रकट शिवलिंग का रूप है Baba Bhootnathबाबा भूतनाथ का। मंडी शहर के बीचों बीच शिखारा शैली में बने बाबा के मंदिर में हर रोज भक्तों की भीड़ रहती है। सावन माह में यहां हर सोमवार को विशेष पूजा अर्चना और भंडारे का आयोजन होता है। 1527 ई में बने इस मंदिर का रूप आज भी जस का तस है। मंदिर के अंदर प्राचीन वाद्य यंत्र भी रखे गए हैं और प्राचीन मूर्तियां भी हैं। यहां सुबह पांच बजे और रोज शाम को आरती का आयोजन होता है। साथ ही दूध, दहीं, शहद, बिल व भांग पत्र से पूजा का विशेष लाभ भक्तों को मिलता है। मंडी शहर के साथ-साथ देश व विदेश से श्रद्धालु भी बाबा भूतनाथ के दर्शनों के लिए यहां पहुंचते हैं।

Baba Bhootnath:यह है मान्यता

बताया जाता है कि प्राचीन समय में एक ग्वाला अपनी गाय को चराने के लिए मंडी आता था, तो गाय एक स्थान पर खड़ी हो जाती और उसके थनों से अपने आप ही उस स्थान पर दूध निकलने लगता। यह बात चारों और फैल गई। इसी बीच उक्त समय के राजा अजबेर सेन को भगवान शिव ने सपने में आकर कहा कि उक्त स्थान पर उनका शिवलिंग हैं। सपना आने के अगले दिन ही जब राजा ने वहां खोदाई करवाई तो स्वयं-भू प्रकट शिवलिंग वहां मिला। इसके बाद राजा ने यहां शिखरा शैली में एक मंदिर का निर्माण करवाया और तब से आज दिन तक मंडी शहर के अलावा देश भर के लोगों की आस्था का केंद्र बाबा भूतनाथ का मंदिर माना जाता है।

बाबा भूतनाथ के बारे में कुछ रोचक तथ्य

  • बाबा भूतनाथ को भगवान शिव का एक रूप माना जाता है।
  • उनका नाम “भूत” और “नाथ” दो शब्दों से मिलकर बना है, जिसका अर्थ है “भूतों का स्वामी”।
  • ऐसा माना जाता है कि बाबा Baba Bhootnath भूतनाथ अपने भक्तों की मनोकामनाएं पूरी करते हैं।
  • हर साल हजारों श्रद्धालु बाबा भूतनाथ के दर्शन के लिए आते हैं और उनसे आशीर्वाद प्राप्त करते हैं।

बाबा भूतनाथ मंदिर, कोलकाता, पश्चिम बंगाल

  • यह मंदिर भी भगवान शिव को समर्पित है और 18वीं शताब्दी में बनाया गया था।
  • यह मंदिर अपनी भव्य वास्तुकला और शांत वातावरण के लिए जाना जाता है।
  • यहाँ हर साल महाशिवरात्रि और अन्य हिंदू त्योहारों पर विशेष आयोजन होते हैं।

शादी में आ रही है दिक्कतें तो जरुर कर लें जुलाई में इस दिन शिव जी की आराधना

बाबा भूतनाथ मंदिर, जयपुर, राजस्थान

  • यह मंदिर भगवान शिव और उनके परिवार को समर्पित है।
  • यहाँ तीन शिवलिंग हैं, जो भगवान जगन्नाथ, बलराम और सुभद्रा का प्रतिनिधित्व करते हैं।
  • यह मंदिर जयपुर के सबसे पुराने मंदिरों में से एक है और हर साल बड़ी संख्या में श्रद्धालु यहां आते हैं।

बाबा भूतनाथ मंदिर, वाराणसी, उत्तर प्रदेश

  • यह मंदिर भगवान शिव को समर्पित है और गंगा नदी के तट पर स्थित है।
  • यह मंदिर अपनी प्राचीनता और धार्मिक महत्व के लिए जाना जाता है।
  • यहाँ हर साल लाखों श्रद्धालु गंगा में स्नान करने और भगवान शिव के दर्शन करने आते हैं।

इनके अलावा भी भारत में कई जगहों पर बाबा भूतनाथ के मंदिर हैं।

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Open chat
सहायता
Scan the code
KARMASU.IN
नमो नमः मित्र
हम आपकी किस प्रकार सहायता कर सकते है