मंत्रो का संकलन

No downloads found!

    वैदिक कोर्सेज –

    अष्टावक्र गीता AUDIO BOOK

    राजा जनक ने अष्टावक्र की परीक्षा लेने के लिये पूछा

    हमारी नवीनतम पोस्टें 

    संस्कृत में अकारान्त शब्द: पुंल्लिंग, स्त्रीलिंग और नपुंसकलिंग LEARN SANSKRIT-4

    संस्कृत में अकारान्त शब्द: पुंल्लिंग, स्त्रीलिंग और नपुंसकलिंग अकारान्त शब्द वे शब्द होते हैं जिनके अंत में “अ” वर्ण होता है। ये शब्द तीनों लिंगों

    Read More »

    Kushmanda Mata नवरात्रि के चौथे दिन ऐसे करें मां कुष्मांडा देवी की पूजा :Chaitra Navratri 2024

    माँ कुष्मांडा: नवरात्रि के चौथे दिन की देवी माँ कुष्मांडा नवदुर्गा का चौथा स्वरूप हैं। इनकी पूजा नवरात्रि के चौथे दिन की जाती है। माँ

    Read More »

    आसान भाषा में संस्कृत पढ़ना सीखें LEARN SANSKRIT -3

    संस्कृत के अच्छे संसाधन खोजें: आपकी सीखने में मदद के लिए कई अच्छे संसाधन उपलब्ध हैं. आप संस्कृत की पाठ्यपुस्तकें, ऑनलाइन ट्यूटोरियल, मोबाइल एप्स या

    Read More »

    संस्कृत में अनुवाद के नियम पाणिनी के अनुसार LEARN SANSKRIT-2

    पाणिनी के अनुसार संस्कृत में अनुवाद के नियम पाणिनी द्वारा लिखित अष्टाध्यायी, संस्कृत व्याकरण का सबसे महत्वपूर्ण ग्रंथ है। इसमें अनुवाद के लिए भी कुछ

    Read More »
    मन में उठने वाले प्रश्न

    सनातन धर्म, जिसे हिंदू धर्म के रूप में भी जाना जाता है, दुनिया का सबसे पुराना धर्म है। यह एक धर्म नहीं है, बल्कि एक जीवन पद्धति है जो आत्मा की खोज पर केंद्रित है। सनातन धर्म के अनुसार, आत्मा अमर है और यह जन्म से जन्म तक यात्रा करती है। इस यात्रा के दौरान, आत्मा को अपने कर्मों के आधार पर फल प्राप्त होता है।

    • आध्यात्मिक ज्ञान प्राप्त करना: गीता में जीवन के कई महत्वपूर्ण आध्यात्मिक सिद्धांतों का वर्णन किया गया है। इन सिद्धांतों को समझने से लोगों को अपने जीवन में अधिक अर्थ और उद्देश्य खोजने में मदद मिल सकती है।
    • जीवन के उद्देश्य को समझना: गीता हमें बताती है कि हमारे जीवन का उद्देश्य भगवान को प्राप्त करना है। यह हमें अपने जीवन में सही दिशा में आगे बढ़ने में मदद कर सकता है।
    • कर्तव्य के महत्व को समझना: गीता हमें बताती है कि हमें अपने कर्तव्यों का पालन करना चाहिए, भले ही वे कठिन हों। यह हमें अपने जीवन में दृढ़ता और संकल्प विकसित करने में मदद कर सकता है।
    • कर्म के सिद्धांत को समझना: गीता हमें बताती है कि हमारे कर्मों के परिणाम हमारे जीवन पर पड़ते हैं। यह हमें अपने कर्मों के बारे में अधिक जागरूक होने और अच्छे कर्म करने के लिए प्रेरित कर सकता है।
    • मोक्ष प्राप्त करना: गीता हमें बताती है कि मोक्ष प्राप्त करना ही जीवन का अंतिम लक्ष्य है। यह हमें अपने आध्यात्मिक विकास पर ध्यान केंद्रित करने और मोक्ष प्राप्त करने के लिए प्रेरित कर सकता है।
    • जो लोग हिंदू धर्म के बारे में अधिक जानना चाहते हैं, वे गीता पढ़ने से लाभान्वित हो सकते हैं। गीता हिंदू धर्म के कई मूल सिद्धांतों को संक्षेप में प्रस्तुत करती है।
    • जो लोग अपने आध्यात्मिक जीवन को बेहतर बनाना चाहते हैं, वे गीता पढ़ने से लाभान्वित हो सकते हैं। गीता में जीवन के कई महत्वपूर्ण आध्यात्मिक सिद्धांतों का वर्णन किया गया है।
    • जो लोग अपने जीवन में अधिक अर्थ और उद्देश्य खोज रहे हैं, वे गीता पढ़ने से लाभान्वित हो सकते हैं। गीता हमें बताती है कि हमारे जीवन का उद्देश्य भगवान को प्राप्त करना है।

    वेद हिंदू धर्म के सबसे प्राचीन और पवित्र ग्रंथ हैं। वेदों को श्रुति साहित्य के रूप में वर्गीकृत किया जाता है, जिसका अर्थ है कि उन्हें ऋषियों को ईश्वर के प्रति श्रवण के माध्यम से प्राप्त हुआ था। वेदों में देवताओं, ब्रह्मांड, ज्योतिष, गणित, औषधि, विज्ञान, भूगोल, धर्म, संगीत, रीति-रिवाज आदि जैसे कई विषयों का ज्ञान वर्णित है।

    • ईश्वर एक है, लेकिन उसके कई रूप हैं।
    • आत्मा अमर है और यह जन्म से जन्म तक यात्रा करती है।
    • कर्म का सिद्धांत, जो कहता है कि अच्छे और बुरे कर्मों के लिए फल मिलता है।
    • पुनर्जन्म का सिद्धांत, जो कहता है कि आत्मा मरने के बाद नए शरीर में पुनर्जन्म लेती है।
    • मोक्ष का सिद्धांत, जो कहता है कि आत्मा की मुक्ति का लक्ष्य है।

    वेद हिंदू धर्म के लिए एक अमूल्य संपत्ति हैं। वे हिंदू धर्म के मूल सिद्धांतों और विश्वासों को संरक्षित करते हैं, और वे हिंदू धर्म के अनुयायियों के लिए आध्यात्मिक विकास का एक स्रोत हैं।

    Open chat
    सहायता
    Scan the code
    KARMASU.IN
    नमो नमः मित्र
    हम आपकी किस प्रकार सहायता कर सकते है